Union - c programming in hindi tutorials

Union c programming in Hindi: union एक ऐसा data type है जो की different type के variables को same memory location पर store करने के काम आता है | 

यह एक special type का data type है union में एक time पे एक variable की value ही store हो सकती है union का इस्तेमाल हम एक ही memory location को अलग अलग काम के लिए बार बार इस्तेमाल करने के लिए करते है | 


Union - c programming Hindi tutorials

Union - c programming hindi tutorials


Define union in Hindi

union को define करने के लिए हम union keyword का इस्तेमाल करते है | 

syntax

union roll_no {

statement1;
statement2;
...
statementn;
} variable;


Example

union name {

int a;

float f;


}

Note: यहाँ पर जब भी हम variable a और f की value को store करेंगे तो value एक ही memory location पर store होगी | 

union का size उसके अंदर define variables में से सबसे बड़े variable के size के बराबर होता है | 

जैसे की हमने example में union में 2 variables integer और float को define किया है जिसमे से integer variable 2-byte memory space लेता है वही float variable 4-byte की memory का इस्तेमाल करता है इसलिए यहाँ पर union का size 4 byte होगा | 


Initializing union in Hindi

union को program में इस्तेमाल करने के लिए हमें main function में union को initialize करना पड़ता है | 

syntax

union union_name variable;


Example

union name n;


Example c program to find the size of the union in Hindi


#include <stdio.h>
#include <conio.h>

union var {

   int i;
   float f;
};

int main()

{

   union var v;       


   printf( "Memory size of var union is : %d\n", sizeof(v));


   getch();

   return 0;
}


output

Memory size of var union is : 4



Access member of the union in Hindi

union में define members को access करने के लिए हम member access operator [.] operator का इस्तेमाल करते है| 

syntax

pointing_variable.member_name;


Example

n.i = 5;



Example c program using union in Hindi


#include <stdio.h>
#include <conio.h>

union Data {

   int i;
   float f;
};

int main( ) {


   union Data data;       


   data.i = 10;

   data.f = 220.5;

   printf( "data.i : %d\n", data.i);

   printf( "data.f : %f\n", data.f);

   data.i = 11;

 
   printf( "data.i : %d\n", data.i);

   data.f = 220.5;


   printf( "data.f : %f\n", data.f);


   getch();

   return 0;
}


Output

data.i : 1917853763
data.f : 220.5
data.i : 11
data.f : 220.5


Explanation
जैसे की हमने program में variable i और f की value एक के बाद एक करके दी है लेकिन union हर variable की value को एक ही  location पर ही store करता है इसलिए जब भी हम i की value को print करवाएंगे तो एक garbage value print होगी क्योकि i की value को देने के बाद हमने f variable को भी value दी है  इसलिए अब i variable के value की जगह f variable की value store हो चुकी है | 

इसके बाद हमने एक एक करके variable को value दी है और एक एक करके variables की values को print करवाया है तब i और f की value सही print होती है इसका मतलब है की union में हम एक समय पर एक  variable को ही access कर सकते है | 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ