Linked List - Data structures and algorithms in hindi

Linked list in Hindi - linked list एक basic type का data structure है यह एक abstract type का data type है जो की data को  noncontinuous memory location पर स्टोर करती है | 

Linked List - Data structures and algorithms in hindi

इस tutorial में हम क्या सीखेंगे

  1. Linked list क्या होती है?
  2. linked list में node क्या होता है 
  3. linked list का example 
  4. linked list के advantages 
  5. linked list के disadvantages 

जैसे की हम जानते है की array, में data sequential और continuous memory location पर store होते है  इसलिए हम उनको array के index से access कर सकते है जैसे की हम निचे दी गयी image में देख सकते है | 

Linked List - Data structures and algorithms in hindi

Linked List क्या है - Hindi

linked list में data और values sequential order में नहीं store होती है इसमें हम हर value के साथ एक reference को store करते है जो की list में store next item की memory location को point करता है इसलिए linked list में हर data, links की मदद से connected रहते है | 

Linked List - Data structures and algorithms in hindi


linked list में node

list में store value और उसके साथ link को हम node कहते है linked list में node एक basic building block होता है और पूरी list nodes से मिलकर ही बनी होती है | 

Linked List - Data structures and algorithms in hindi

सभी nodes linear order में connected होते है जो की एक linked list को represent करते है | 

जैसे हर node में एक info और एक link part होता है Info part में value store होती है और link part में next value को access करने के लिए reference store होता है 

Linked List - Data structures and algorithms in hindi

यहाँ पर एक example में linked list दी गयी है जिसमे की 6 nodes है और हर values एक दूसरे से link की मदद से connected रहते है | 

Note:  पहला node पहली value को store करता है और दूसरी value के reference को store करता है और दूसरा node दूसरी value को store करता है और तीसरी value के reference को store करता है ऐसे सभी nodes आगे काम करते रहते है | 

पूरी linked लिस्ट को access करने के लिए हमें सिर्फ पहले node को ही store करना पड़ता है सिर्फ पहले node के reference से ही हम पूरी list की values को print करवा सकते है और उनको बदल सकते है | 

जैसे ऊपर example में हमने start variable की मदद से list के पहले node के reference को store किया है | 


linked list के advantage

linked list एक dynamic data structure है 
इसका मतलब है की हम linked list के size को run time पर बढ़ा सकते है | 

इसमें data contiguous memory location पर store नहीं होते है
इसका मतलब है की हमें list को स्टोर करने के लिए contiguous memory system में continuous memory locations नहीं चाहिए यह डाटा को store करने के लिए blank memory space को randomly store करती है | 

इसमें data को insert और delete करना बहुत आसान है | 


linked list के disadvantage

हम linked list के data को randomly access नहीं कर सकते है जैसे list के last item को access करने के लिए हमें पूरी list को traverse करना पड़ेगा | 

linked list को implement करने के लिए हमें extra memory की जरुरत पड़ती है और वो extra मेमोरी हम links को store करने के लिए इस्तेमाल करते है 


linked list के types

  1. single linked list
  2. double linked list
  3. circular linked list
  4. linked lists with header node
  5. sorted linked list
हम इन सब types को एक एक करके detail में पढ़ेंगे | 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां