Functions c programming in hindi tutorials

Function - c programming in hindi: c programming में हम function का इस्तेमाल code को बार बार इस्तेमाल करने के लिए करते है | 
जैसे मान लीजिये की हमने एक program बनाया है जिसमे की हम 2 values का sum print करवा रहे है लेकिन बार बार अलग अलग values के लिए उसी code को लिखने की जगह हम program में एक function बना सकते है जो की 2 values को input के तोर पर लेगा और उन values का sum वापस return करेगा जिससे की हम चाहे जितनी values के लिए sum print करवा सकते है और इससे हमारा code कम lines में ही समाप्त हो जायेगा | 


Functions in c programming in Hindi Tutorials

Functions in c programming in Hindi Tutorials


function defining -Syntax in Hindi 


return-type function-name(arg1, arg2, .. argn)
{

statements;

return statement;
}


Example:

int function1(int a, int b)
{   
    int c
    c = a+b;
return c;
}


return-type: यहाँ पर return type का मतलब है की function किस value को return करेगा | 
यहाँ पर example में हमने return type के जगह int लिखा है जिसका मतलब है की हम जब भी function को call करेंगे तब function integer value ही return करेगा | 

Note: c programming में function हमेशा उस type की value ही  return करता है जैसा की उसका return type होता है अगर function का return type int है तो function हमेशा integer value ही return करेगा | 
अगर हम integer value के अलावा किसी और type की value return करेगा तो compiler error generate करेगा | 

function-name: function का नाम program में हमेशा unique होना चाहिए | 
जैसे की हमने example में function का नाम function1 लिखा है और जब भी हम function को call करेंगे तब हम इस नाम से ही function को call करेंगे जैसे - function1().

argument: argument का मतलब है की हम function में कौनसी values को input के तोर पर दे रहे है | 
जैसे example में हमने 2 integer values a और b को agrument के तोर पे पास किया है तो जब भी हम function को call करेंगे तब हम  function में 2 integer values को हमेशा input के तोर पे पास करेंगे | 

Note: हमें function में उसी type की values को input के तोर पर देना पड़ता है जिस type की value हमने define की है  
जैसे example में हमने integer values को argument के तोर पर define किया है तो हम हमेशा integer values को ही input में दे सकते है किसी और type की values को नहीं | 

return value: यहाँ पर return का मतलब है की function कोनसी value और statement को return करेगा जैसे की हमें पता है की function की return value हमेशा उसके return type पे depend करती है | 
यहाँ पर example में हमने c variable को return किया है जो की integer type का है और function का return type भी integer type का है | 


Defining function in Hindi 

function को  define करने के लिए हम निचे दिए गए syntax को इस्तेमाल करते है | 


defining function -Syntax:


return-type function-name(arg1, agr2,.., agrn);


Example:

void sum(int a, int b);


c programming में किसी भी function को इस्तेमाल करने से पहले हमें  function को define करना पड़ता है जैसे की हमने ऊपर example में sum नाम के function को define किया है | 


Initializing function in Hindi

function को program में define करने के बाद हम function को initialize करते है initializing के तोर पर हम function में वो code लिखते है जिसको हमें function में run करना है | 

Example:

void sum(a,b)
{
int c;
    c = a+b;
    printf("%d", c);
}


calling the function in Hindi

function को program में किसी भी जगह इस्तेमाल करने के लिए हमें function को call करना पड़ता है | 

Syntax - function calling 


function_name(agrument list );


Example:

sum(2,3);

The function uses type in Hindi

हम function को 2 प्रकार से इस्तेमाल कर सकते है | 

Method 1:
program में function को इस्तेमाल करने के लिए हमें सबसे पहले function को define करना पड़ता है और बाद में हम function को  initialize करके उसे इस्तेमाल करते है | 


An example program using a function definition


#include <stdio.h>
#include <conio.h>

void writeMessage(char name[], int n);

void main() 
{
    writeMessage((char *)"Dave", 123);
    writeMessage((char *)"Victoria", 444);
    
    getch();
}

void writeMessage(name[], n) 
{
   printf("Hello, %s %d\n", name, n);
}


Output

Hello, Dave 123
Hello, Victoria 444


Note: यहाँ पर हमने main() function के ऊपर writeMessage() function को define किया है इसके बाद हमने main() function के बाद function को initialize किया है जब भी हम program में function को call करेंगे तब compiler वहा चला जाएगा जहाँ function को initialize किया है और function को execute करना शुरू कर देता है | 

Note: किसी भी function को इस्तेमाल करने के लिए हमें function 
को main() program में call करना पड़ता है | 

Method 2:
program में हम function को define किये बिना ही सीधे initialize कर सकते है और function को इस्तेमाल कर सकते है | 


An example program using function initialization


#include <stdio.h>
#include <conio.h>

void writeMessage(char name[], int n) 
{
   printf("Hello, %s %d\n", name, n);
}

void main() {
    writeMessage((char *)"Dave", 123);
    writeMessage((char *)"Victoria", 444);
    
    getch();



Output:

Hello, Dave 123
Hello, Victoria 444


Note: यहाँ पर हमने एक function जिसका नाम है writeMessage को define किये बिना ही सीधे initialize करके उसे इस्तेमाल किया है 
यहाँ पर हमने main() function के पहले function को initialize किया है इसलिए हमें function को define करने की कोई जरुरत नहीं है | 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां