What is computer programming in hindi

computer programming in Hindi: अगर आप यह जानना चाहते है की कंप्यूटर प्रोग्रामिंग क्या होती है और उसे कैसे सीखा जाता है तो आप  सही जगह पर आये है  आज के इस पोस्ट में मै आपको बहुत ही सरल तरीके से यह समझाने की कोशिस करूँगा की एक computer programming language क्या होती है और उसे आपको क्यों और कैसे सीखना चाहिए |

What is computer programming in hindi

कम्प्यूटर प्रोग्रामिंग क्या है?

जिस तरह हम किसी और से बोलने के लिए अपनी भाषा का इस्तेमाल करते है जैसे की हिंदी, english वैसे ही कंप्यूटर से बात करने के लिए हमें एक अलग language का इस्तेमाल करना पड़ता है जिसको हम computer programming language कहते है | किसी भी छोटी से छोटी technical चीज को बनाने के लिए हमें computer प्रोग्रामिंग की जरुरत पड़ती है| 

हमें कंप्यूटर प्रोग्रामिंग की जरूरत क्यों पड़ी ?

एक computer सिर्फ जीरो 0 और one 1 और उसके कॉम्बिनेशन को ही जानता है जैसे 00, 11, 1010 इत्यादि 
लेकिन इन्सान इस भाषा को आसानी से नहीं समझ पता है इसलिए हमें कुछ ऐसे माध्यम की जरुरत थी जिसे कंप्यूटर और इंसान दोनों आसानी से समझ सके | इसलिए scientist ने मिलके computer प्रोग्रामिंग language का निर्माण किया | जिसे computer और इंसान दोनों आसानी से सकते है |

कंप्यूटर प्रोग्रामिंग को develop करने से पहले इंसान कंप्यूटर को इतना आसानी से नहीं उपयोग कर पाता था और अगर प्रोग्रामिंग language नहीं होती तो शायद हम टेक्नोलॉजी में इतने आगे भी नहीं बढ़ पाते |

आज हमारे पास कई सारी अलग अलग प्रोग्रामिंग language है जैसे की c प्रोग्रामिंग, c++, java, python, swift, html, javascript, और भी बहुत सारी language है

कम्प्यूटर प्रोग्रामिंग के प्रकार 

मुख्य तोर पे कंप्यूटर प्रोग्रामिंग दो प्रकार की होती है
low-level programming
High-level programming

Low-level programming language क्या होती है?

एक low level प्रोग्रामिंग लैंग्वेज वो लैंग्वेज होती है जिसमे हम बाइनरी में कोडिंग करते है जिसे हम मशीन कोड भी कहते है

उदहारण- मशीन लैंग्वेज, असेंबली लैंग्वेज

High level programming language क्या होती है?

यह वो प्रोग्रामिंग लैंग्वेज होती है जिसमे की हम human language में कोड करते है जैसे की english language में | 

उदहारण- c लैंग्वेज, java, python, c#

किसी भी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को सिखने से पहले यह याद रखे की हर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज एक स्पेसिफिके काम के लिए ही बनायीं गयी है इसलिए आप उस प्रोग्रामिंग को सीखे जिस फील्ड में आप जाना चाहते है | 

निचे कुछ प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को समझाया गया है आप उन्हें पढ़ कर यह तय कर सकते है की आपको कोनसी लैंग्वेज पहले सीखनी चाहिए | 

c प्रोग्रामिंग क्या है?

c एक जनरल purpose लैंग्वेज है इसका इस्तेमाल हम operating system बनाने, compiler, interpreter, complex प्रोग्राम और game बनाने के लिए करते है | तो अगर आपको यह सब सीखना है तो पहले आपको c प्रोग्रामिंग सीखनी पड़ेगीं | 
c प्रोग्रामिंग को सीखना बहुत आसान है इसे सिखने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करे | 
c प्रोग्रामिंग सीखे हिंदी में

c++ प्रोग्रामिंग क्या है?


c++ भी एक जनरल purpose लैंग्वेज है यह c प्रोग्रामिंग का एक upgraded version है | इसमें c प्रोग्रामिंग के सारे फीचर्स मौजूद है इसका use हम वीडियो गेम, म्यूजिक प्लेयर्स, और आर्ट एप्लीकेशन को बनाने के लिए करते है | अगर आपको भी यह सब सीखना है तो आप इसे जरूर सीखे | 

Java प्रोग्रामिंग क्या है?


java एक high level प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है| यह एक प्लेटफॉर्म independent लैंग्वेज है इसका इस्तेमाल हम किसी भी प्रकार के एप्लीकेशन को बनाने के लिए कर सकते है | वैसे इसका इस्तेमाल एंड्राइड एप्लीकेशन और वेब application को बनाने के लिए किया जाता है तो अगर आप एक android developer बनना चाहते है तो java programming जरूर सीखे | 

Python प्रोग्रामिंग क्या है? 


python एक हाई लेवल प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का इस्तेमाल लगभग टेक्नोलॉजी के सारे एरिया में होता है इसका इस्तेमाल करके हम वेबसाइट development , scripting, और आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस और हैकिंग भी सिख सकते है और इसका इस्तेमाल तो लगभग दुनिया की सारी बड़ी बड़ी companies करती है | जैसे की गूगल, नासा, माइक्रोसॉफ्ट, अमेज़न आदि | 
तो अगर आपको एक साइंटिस्ट बनना है तो आप पाइथन प्रोग्रामिंग को जरूर सीखे |

C# प्रोग्रामिंग क्या है?

c# एक ऐसी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जो की secure applications को बनाने के लिए काम में ली जाती है इसका इस्तेमाल वेब, विंडोज, मोबाइल, और डेटाबेस एप्लीकेशन को बनाने के लिए किया जाता है | 
तो अगर आपको एक सिक्योरिटी developer बनना है तो आप इसको जरूर सीखे | 

Ruby प्रोग्रामिंग क्या है?


Ruby एक ऐसी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जो की पूरी तरह से एक ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है इसका इस्तेमाल हम सॉफ्टवेयर बनाने के लिए करते है | और इसका इस्तेमाल हम वेब एप्लीकेशन को बनाने के लिए भी कर सकते है | 

JavaScript प्रोग्रामिंग क्या है?


Javascript एक बहुत ही popular scripting लैंग्वेज है इसका इस्तेमाल हम वेब पेज को dynamic बनाने के लिए करते है और इसके साथ साथ हम इसका इस्तेमाल मोबाइल, डेस्कटॉप एप्लीकेशन और गेम्स बनाने के लिए करते है |
अगर आप एक वेब डेवलपर बनना चाहते है तो आपको javascript जरूर सीखनी चाहिए |

PHP प्रोग्रामिंग क्या है?

PHP एक scripting language है जो की backend development के लिए काम में ली जाती है इसका इस्तेमाल हम डेटाबेस connectivity के लिए करते है |  अगर आपको एक backend develope बनना है तो  आपको PHP programming जरूर सीखनी चाहिए | 

SQL प्रोग्रामिंग क्या है?


SQL एक Structured query language है इसका use हम डेटाबेस को create और manipulate करने के लिए करते है |  आजकल हर जगह sql use होती है इसलिए अगर आप टेक्नोलॉजी के फील्ड में है तो आपको sql का knowledge होना बहुत जरुरी है | 

Kotlin प्रोग्रामिंग क्या है?

Kotlin एक statically typed प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है इसका इस्तेमाल android ऑपरेटिंग सिस्टम को बनाने में किया जाता है | तो अगर आप एक एंड्राइड डेवलपर बनना चाहते है तो आपको Kotlin जरूर सीखनी चाहिए | 

नोट- आप अपनी इच्छा के अनुसार कोई भी प्रोग्रामिंग language सिख सकते है | किसी भी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को सिखने के लिए आपको कोई pre requirement की जरुरत नहीं है | 

अगर आपको यह knowledge अच्छा लगा जो की मैंने यहाँ दिया है तो please इसे जरूर शेयर कीजियेगा |  आपको अच्छा से अच्छा knowledge देने की यह मेरी छोटी सी कोशिस है 
किसी भी नए टॉपिक पर पोस्ट के लिए आप मुझे जरूर कमेंट सेक्शन में बताये मै उस टॉपिक पर टॉपिक create करने की अपनी पूरी कोसिस करूँगा | 

#computer programming in Hindi 

Learn SQL in Hindi tutorials | sql fundamentals

SQL in Hindi tutorials: SQL एक search query language है SQL का use हम database को बनाने के लिए करते है किसी भी database को बनाने के लिए हमे SQL programming की जरूरत पड़ती है |

अगर आपको यह सीखना है की database कैसे बनाते है और कैसे database में entries fill करते है तो आपको sql programming सीखनी पड़ेगी |

किसी भी backend के काम के लिए database बहुत जरुरी होता है और अगर आपको future में IT field में काम करना है तो आपको sql का decent knowledge होना बहुत जरुरी है यह एक बेसिक requirement है

इसके अलावा आपको एक backend developer बनना है तो आपको database का knowledge होना बहुत जरुरी है
sql in hindi tutorials, sql fundamentals

यहाँ पर आपको SQL programming से related सारे topic basic से लेकर advance level तक के मिल जायेंगे जिनको पढ़ कर आप एक complete database developer बन सकते है

SQL programming को सिखने के लिए निचे दिए गए index को फॉलो करे और जिस टॉपिक के बारे में आपको पढ़ना है उस पर क्लिक करके आप उसके बारे में पढ़ सकते है |

SQL in Hindi Tutorials

Database Introduction
SQL introduction
syntax rule
Creating a table
Statements
Distinct and limit keyword
Where statement
And or statement
In Not IN statement
functions
Subqueries
Like and Min
Table joining
Join and types of join
UNION
Insert statement
Update and delete statement
Not null and Autoincrement statement
Alter drop rename statement
Views

इन सब टॉपिक्स को सिखने के बाद आप एक database को completely develop करना सिख जायेंगे

इन सब topics के अलावा और भी कई सारे topics है जिनको future में यहाँ शामिल किया जायेगा | आपको ज्यादा से ज्यादा knowledge कम समय में देने की यह मेरी छोटी सी approach है | 

अगर कोई भी topic cover करना रह गया हो तो please मुझे comment box में ज़रूर बताये   मैं ज़रूर कोशिश करूँगा उस topic को जल्द से जल्द कवर करने की |

इसके अलावा अगर आपको इन सब topic में कोई भी दिक्कत आती है और आपका कोई भी question है और आप मुझसे तुरंत हेल्प या सहायता चाहते है तो राइट साइड में स्क्रीन पर आपको whats app का icon दिख रहा होगा उसकी मदद से आप मुझे contact कर सकते है आपकी सहायता के लिए मैं हमेशा तत्पर रहूँगा |

अगर आपको java programming के अलावा और कोई भी programming language सीखनी हो तो मुझे ज़रूर बताये | मैं अपनी पुरी कोशिश करूँगा आपकी सहायता करने की इस ब्लॉग के माध्यम से |

अगर आपको यह पोस्ट और knowledge जो मैंने यहाँ पर शेयर किया है पसंद आयी तो इस पोस्ट को ज़रूर शेयर करे और और अपने ब्लॉग को email की सहायता से ज़रूर फॉलो करे | इसके साथ साथ अगर आपके कोई भी सुझाव है तो मुझे कमेन्ट बॉक्स में ज़रूर बताये |
SQL in Hindi tutorials { search query language } 

Learn Java in Hindi Tutorials for Beginners

Java in Hindi Tutorials : java एक computer programming language है जैसे की c और c++ इसका निर्माण james gosline ने sun microsystem पर किया था | इसको सबसे पहले 1995 में रिलीज़ किया गया था

अगर आपको java प्रोग्रामिंग सीखनी है और एक developer के तोर पर जॉब करनी है तो आपको निचे दिए गए सारे topics सिखने पढ़ेंगे 

यहाँ पर आपको java programming से related सारे topics beginning से लेकर advanced लेवल तक के मिल जायेंगे जिनको पढ़ कर आप एक complete java developer बन सकते है और एक java developer के तोर पर भी किसी भी company में काम कर सकते है |
java in hindi tutorials for beginners

क्योकि java एक ऐसी programming language है जिसकी future में बहुत demand है और बहुत सारी बड़ी companies मुख्य तोर पे java programming के ऊपर ही work करती है इसलिए future में java developer की बहुत demand होने वाली है इसलिए आपको java programming जरूर सीखनी चाहिए | 

java programming को सिखने के लिए निचे दिए गए index को फॉलो करे और topic वाइज topic आगे बढ़ते जाये | 

Java in Hindi Tutorials 

Introduction 
Program Syntax
Comments
Variables
Data types
Operators
If else statement
for loop
while loop
Break continue statement
Array
Methods
Method overloading
Class and object
class attribute
class method
constructors
modifiers
Encapsulation
Inheritance
polymorphism
Abstract class
Enums
Exceptions
File Handling
File operations

अगर कोई भी topic cover करना रह गया हो तो please मुझे comment box में ज़रूर बताये| मैं ज़रूर कोशिश करूँगा उस topic को जल्द से जल्द कवर करने की |

इसके अलावा अगर आपको इन सब topic में कोई भी दिक्कत आती है और आपका कोई भी question है और आप मुझसे तुरंत हेल्प या सहायता चाहते है तो राइट साइड में स्क्रीन पर आपको whats app का icon दिख रहा होगा उसकी मदद से आप मुझे contact कर सकते है आपकी सहायता के लिए मैं हमेशा तत्पर रहूँगा |

इन सब topics के अलावा और भी कई सारे topics है जिनको future में यहाँ शामिल किया जायेगा | आपको ज्यादा से ज्यादा knowledge कम समय में देने की यह मेरी छोटी सी approach है | 

अगर आपको java programming के अलावा और कोई भी programming language सीखनी हो तो मुझे ज़रूर बताये | मैं अपनी पुरी कोशिश करूँगा आपकी सहायता करने की इस ब्लॉग के माध्यम से |


अगर आपको यह पोस्ट और knowledge जो मैंने यहाँ पर शेयर किया है पसंद आयी तो इस पोस्ट को ज़रूर शेयर करे और और अपने ब्लॉग को email की सहायता से ज़रूर फॉलो करे | इसके साथ साथ अगर आपके कोई भी सुझाव है तो मुझे कमेन्ट बॉक्स में ज़रूर बताये |
java in Hindi tutorials

Learn HTML in Hindi tutorials | Hyper Text Markup Language

Html in Hindi tutorials : HTML एक वेब प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है यह किसी भी वेब पेज के structure को बनाने के लिए use में ली जाती है अगर आपको HTML लैंग्वेज सीखनी है और वेबसाइट development सीखना है तो आपको HTML language के basics से लेकर advance लेवल तक के टॉपिक्स को पढ़ना पड़ेगा |

यहाँ पर आपको html programming से related सारे topics बेसिक्स से लेकर advance लेवल तक के मिल जायेंगे | एक web developer बनने के लिए और website बनाने और तो और blogging सिखने के लिए भी आपको html language का knowledge होना बहुत जरुरी है 
HTML in Hindi tutorials | Hyper Text Markup Language

Html language को सिखने के लिए निचे दिए गए index को फॉलो करे 

नोट: किसी भी topic के ऊपर click करके आप उस topic के बारे में सिख सकते है 

Html in Hindi tutorials

Index 
HTML क्या है 
HTML का basic document structure 
पहला HTML पेज बनाये 
Paragraphs क्या है और कैसे बनाये 
Headings  क्या और कैसे बनाये 
lines  क्या और कैसे बनाये 
comments
Text formatting
Elements
Attributes
Images 
Links
Lists
Tables
Inline or block elements
Forms
Colors

HTML5 सीखे हिंदी में | Html in Hindi tutorials

HTML5 क्या है 
Models क्या होते है और कैसे यूज़ करे 
Structure
Navigation
Header
Footer
Article
Section
Aside
Audio और video elements
progress element
Storage API
Geolocation API
Drag और Drop API
SVG
Canvas
Forms

इन सब topics को सिखने के बाद आप अच्छे तरीके से एक web page बना सकते है 

अगर कोई भी topic cover करना रह गया हो तो please मुझे comment box में ज़रूर बताये| मैं ज़रूर कोशिश करूँगा उस topic को जल्द से जल्द कवर करने की |

इसके अलावा अगर आपको इन सब topic में कोई भी दिक्कत आती है और आपका कोई भी question है और आप मुझसे तुरंत हेल्प या सहायता चाहते है तो राइट साइड में स्क्रीन पर आपको whats app का icon दिख रहा होगा उसकी मदद से आप मुझे contact कर सकते है आपकी सहायता के लिए मैं हमेशा तत्पर रहूँगा |

इन सब topics के अलावा और भी कई सारे topics है जिनको future में यहाँ शामिल किया जायेगा | आपको ज्यादा से ज्यादा knowledge कम समय में देने की यह मेरी छोटी सी approach है | 

अगर आपको HTML programming के अलावा और कोई भी programming language सीखनी हो तो मुझे ज़रूर बताये | मैं अपनी पुरी कोशिश करूँगा आपकी सहायता करने की इस ब्लॉग के माध्यम से |

अगर आपको यह पोस्ट और knowledge जो मैंने यहाँ पर शेयर किया है पसंद आयी तो इस पोस्ट को ज़रूर शेयर करे और और अपने ब्लॉग को email की सहायता से ज़रूर फॉलो करे | इसके साथ साथ अगर आपके कोई भी सुझाव है तो मुझे कमेन्ट बॉक्स में ज़रूर बताये |

Competitive programming in Hindi

Competitive programming in Hindi: यदि आप एक programmer हैं तो आपने Competitive प्रोग्रामिंग शब्द के बारे में सुना होगा। और यदि आप प्रोग्रामिंग में नए हैं औरCompetitive प्रोग्रामिंग के बारे में जानना चाहते हैं तो आप सही जगह पर हैं। इसलिए आज मैं आपको यह बताने वाला हु की competitive प्रोग्रामिंग आख़िर है क्या और इसे क्यों आपको सीखना चाहिए |
Competitive programming in Hindi

Competitive programming in Hindi


यहाँ मै आपको तीन चीजों के बारे में detail में बताने वाला हु | 

  • कॉम्पिटिटिव प्रोग्रामिंग क्या है
  • कॉम्पिटिटिव प्रोग्रामिंग क्यों है 
  • कॉम्पिटिटिव प्रोग्रामिंग कैसे सीखें।


कॉम्पिटिटिव प्रोग्रामिंग क्या है


लगभग आधे प्रोग्रामर सोचते हैं कि कॉम्पिटिटिव प्रोग्रामिंग एक प्रोग्रामिंग भाषा है। लेकिन वास्तव में, यह एक प्रोग्रामिंग भाषा नहीं है। कॉम्पिटिटिव प्रोग्रामिंग के अर्थ को आसानी से समझने के लिए मैं शब्द को दो भागों में तोड़ता हूं। पहला कॉम्पिटिटिव है और दूसरा प्रोग्रामिंग है।

कॉम्पिटिटिव


कॉम्पिटिटिव का मतलब होता है की किसी भी प्रोग्राम को लिखने के लिए हम कैसे data structures और algorithm का यूज़ करू ताकी मै उस प्रोग्राम को कम से कम मैमोरी को यूज़ में लू और कम कम से कम टाइम में वो प्रोग्राम रन हो जाये | 

उदाहरण के लिए, अगर मैं कहता हूं कि दो संख्याओं के जोड़ के लिए एक प्रोग्राम लिखें। तब यहाँ पर कॉम्पिटिटिव प्रोग्रामिंग कही यूज़ में नहीं आती है क्योंकि लिखने के लिए कोई नियम और शर्त नहीं है। 

लेकिन अगर मैं कहता हूं कि दो संख्याओं को जोड़ने के लिए एक प्रोग्राम लिखें। और उस प्रोग्राम को लिखने के लिए अधिकतम मेमोरी का यूज़ केवल 30 बिट्स होना चाहिए और प्रोग्राम केवल 0.001 सेकंड में रन होना चाहिए। इसलिए यहां मेरे पास मेमोरी और टाइम की कमी है जहां मेरे पास केवल 0.001 सेकंड का समय और 30 बिट्स मैमोरी ही है। इसलिए यहाँ कॉम्पिटिटिव प्रोग्रामिंग काम में आती है।

अब प्रोग्रामिंग पर आते हैं।

प्रोग्रामिंग


प्रोग्रामिंग कंप्यूटर सिस्टम के साथ बातचीत करने का एक तरीका है। क्योंकि हमारा कंप्यूटर केवल लौ लेवल भाषा जानता है। जो 0 और 1 का कॉम्बिनेशन है।

इसलिए कॉम्पिटिटिव प्रोग्रामिंग और कुछ नहीं यही है की आप कैसे algorithm को यूज़ करके अपने कोड को कम से कम मैमोरी में स्टोर करवा सकते है और कम से कम टाइम में रन करवा सकते है | 

और यदि आप आईटी क्षेत्र में नौकरी की तलाश कर रहे हैं। तब आपको पता होना चाहिए कि एक कोड कैसे लिखना है ताकि आपका कोड कम समय में चले और कम मैमोरी ले। क्योंकि इससे आपके प्रोडक्ट की  लागत कम होगी और आपके ग्राहकों का समय बचेगा जो की उसका यूज़ कर रहे है। और यह निश्चित रूप से आपके लिए फायदेमंद होगा।
इसलिए अब आपको पता चल गया होगा की कॉम्पिटिटिव प्रोग्रामिंग क्या है और इसे आपको क्यों सीखनी चाहिए | 

कॉम्पिटिटिव प्रोग्रामिंग क्यों


आज की दुनिया में, आईटी कंपनियों और प्रोडक्ट बेस्ड कंपनियों जैसे कि google, facebook, amazon, Microsoft और अन्य कंपनियों को हमेशा कॉम्पिटिटिव प्रोग्रामर के पद की आवश्यकता होती है। और यदि आप आईटी की दुनिया में हैं, तो कॉम्पिटिटिव प्रोग्रामिंग आपके लिए बहुत मायने रखती है।

क्योंकि जिन चीजों को अतीत में बनाए रखना आसान था। अब वो इतनी सरल नहीं है लेकिन आज एक प्रोग्रामर के लिए बहुत सारी प्रॉब्लम हैं।

आइए इसे एक उदाहरण से समझते हैं

अगर मैं कहूं कि Google पर  हर रोज अरबो सर्च होते है। तो यह समझने के लिए कि Google सॉफ़्टवेयर और हार्डवेयर का उपयोग कैसे करता है, यह सेवा बनाए रखने के लिए है। किसी देश में नहीं बल्कि विश्व स्तर पर भी। और Google ने अपने नए सॉफ़्टवेयर को कैसे बनाये ताकि वे उपयोग करना बहुत आसान हो जाए। जैसे गूगल में गूगल मैप, क्लासरूम, हैंगआउट, गूगल ड्राइव, यूट्यूब, गूगल मेल और एक बहुत प्रसिद्ध चीज ब्लॉगर जहा आप इस पोस्ट को पढ़ रहे है 

और आप यह सुनकर चौंक जाएंगे कि लाखों लोग हर एक दिन अपना ब्लॉग बनाने के लिए Google ब्लॉग पर साइन अप करते हैं।

तो गूगल इन चीजों को कैसे मैनेज करता है। यह सब कॉम्पिटिटिव प्रोग्रामिंग से ही संभव हैं।
इसलिए मुझे लगता है कि अब आपको पता होना चाहिए कि आपको कॉम्पिटिटिव प्रोग्रामिंग क्यों सीखनी चाहिए | 

कॉम्पिटिटिव प्रोग्रामिंग कैसे सीखे 


तो अब आप अपने दिमाग को सेट करें कि आप प्रतिस्पर्धी प्रोग्रामिंग सीखेंगे। तो यहां दिए गए चरणों का पालन करने की आवश्यकता है ...

आपको इस विषय पर एक ताजा पोस्ट की आवश्यकता है।

इसलिए कॉम्पिटिटिव प्रोग्रामिंग सीखने के लिए इस पोस्ट को पढ़े 

कॉम्पिटिटिव प्रोग्रामिंग कैसे सीखें।

Note: agar apko kisi bhi topic me koi bhi or kaisi bhi dikkat ya problem aati he ya apka koi bhi question he to aap mujse turant answer chahte he toh aapko right side me screen par whatsapp ka icon dikhega. iski madad se aap mujhe contact kar sakte he. main apki question ke answer dene ke liye hamesa tayar rahunga.  
apko kam se kam samaye me jayada se jayada knowledge dene ki yeh meri choti si kosis he. ummid he aapko yeh tutorial acha laga hoga. aaga or bhi kai sare tutorials aane vale he. 

agar aapko or koi bhi topic ya programming language sikhni he to mujhe jarur bataye. main sure hi ush topic par tutorials banaunga. Toh Hamari family me judne or apne skills ko badane ke liye apne ish blog ko E-Mail se jarur SUBSCRIBE kare.

agar aapko yeh knowledge acha laga toh ish knowledge ko jayada se jayada share kare. or kisi bhi question ye aapke dil me koi bhi sujaav he to aap niche diye gaye comment box me jarur likhe.